अंगूठा दिखाने का अर्थ – Best of Luck, All the best, Good Luck

Best of Luck, All the best, Good Luck, V for victory

अंगूठा दिखाने का अर्थ भी हमारे देश में और पश्चिमी देशों में अलग-अलग तरह से निकाला जाता है। भारत में अंगूठा दिखाने का अर्थ किसी को कुछ न देने से लिया जाता है। कई लोग इसे ठेंगा दिखाना भी कहते हैं लेकिन पश्चिमी देशों में इसका अर्थ होता है बेस्ट ऑफ लक (Best of Luck) अर्थात आपका काम पूरा हो। पश्चिमी देशों में जब दो दोस्त एक-दूसरे से अलग होते हैं तो हाथ मिलाने के बजाय दोनों एक-दूसरे को अंगूठा दिखाते हैं। बहुत से देशों में अंगूठा दिखाना शक्ति का प्रतीक माना जाता है।

मनुष्य के शरीर में अंगूठे तो सारे ही एक जैसे होते हैं लेकिन इन सबकी भाषा का अर्थ अलग-अलग निकाला जाता है। हम जुबान से भी अधिक इन इशारों से काम चलाते हैं। हमारे शारीरिक अंगों में अंगूठा एक विशेष महत्त्व रखता है। पहले के समय में जब लोग बहुत कम पढ़े-लिखे होते थे तो हस्ताक्षर के स्थान पर आदमी के बाएं अंगूठे और औरत के दाएं अंगूठे का निशान लगाया जाता था। आज भी हमारे देश में बहुत से लोग अनपढ़ है औऱ वे हस्ताक्षर न कर पाने के कारण अंगूठा ही लगाते हैं। इससे ही अंगूठे की विशेषता का अंदाजा लगाया जा सकता है।




जब मनुष्य के पास आपसी बोलचाल की कोई भाषा नहीं थी तो उस समय सबसे अधिक हाथों के इशारों से ही काम लिया जाता था। बंदर हर काम इंसानों की तरह करते हैं बस उनमें और इंसानों में अंतर केवल इतना ही है कि इंसान चार पैरों वाला नहीं है और अपनी जुबान भी रखता है। लेकिन जब इंसानी बोलचाल की कोई भाषा नहीं थी तो इंसान बंदरों की तरह ही बॉडी लेंगुएज से काम चलाते थे।

दूसरे विश्व युद्ध के बाद इंग्लैंड के प्रधानमंत्री ने जब जर्मनी पर विजय प्राप्त की तो उसके बाद इंगलिश शब्द (V) का अपना ही एक महत्त्व बन गया था। इसे लोग कहते थे (V for victory) यह शब्द पूरा तो कोई नहीं बोलता था अपितु वहां के लोगों ने इसे बोलने की बजाय हाथ के अंगूठे के साथ की 2 अंगुलियों को खड़ा करके जीत की खुशी जाहिर करना शुरु कर दी। मानव शरीर के बॉडी लेंगुएज की डिक्शनरी में एक और शब्द जुड़ गया। धीरे-धीरे यह शब्द इतना ज्यादा पोपुलर हुआ कि पूरे पश्चिम में इसका चलन हो गया।

भारत में एक समय जब परिवार नियोजन का कार्यक्रम जोरों पर चल रहा था तो कुछ लोगों ने इस इशारे का अर्थ निकाला था कि हम दो हमारे दो।

हमारे आम घरों में जब खाने के समय 2 रोटी मांगी जाती है तो भी इसी प्रकार से इशारा किया जाता है। बच्चे जब 2 रूपये मांगते हैं या किसी दुकान से दो चीजें मांगी जाती है तो भी 2 का इशारा करने के लिए इसी इशारे का प्रयोग किया जाता है।

Read This in English

Part Time or Full Time Jobs, Free Joining in VESTIGE, No investment
Call Now: +91 9873435532
Join Vestige and earn more money per month

Leave a Reply

Your email address will not be published.

English English हिन्दी हिन्दी
error: Content is protected !!