अनिष्ट ग्रहों की शांति के लिए वास्तु टिप्स

वास्तु टिप्स - Vastu Tips for Home

हमारे देश के ऋषि-मुनियों नें अनिष्ट ग्रहों की शांति के लिए बहुत सारे वास्तु टिप्स (Vastu Tips) बताये थें जिनको आजकल के युवा पीढ़ी भूल चुकी है। हमारे देश में बहुत से युवा लोगों के पास कीमती रत्न नहीं हैं या वे इतने महंके रत्न धारण नहीं कर सकते जिससे वे अपने अनिष्ट ग्रहों को शांत सकें। इसलिए आज हम आपके सामने अनिष्ट ग्रहों की शांति के लिए कुछ वास्तु टिप्स बताने जा रहे हैं जो काफी आसान और सस्ता है और हमारे पूर्वज तथा ऋषि-मुनि इनका उपयोग किया करते थें।

अनिष्ट ग्रहों की शांति के लिए वास्तु टिप्स

  1. अगर किसी व्यक्ति को सूर्य ग्रह परेशान कर रहा हो, तो उस व्यक्ति को बेलपत्र की जड़ को गुलाबी धागे में पिरोकर रविवार के दिन प्रयोग में लाना चाहिए। इस वास्तु टिप्स से उसका यह दोष दूर हो जाता है।
  2. अगर चंद्रमा ग्रह कष्ट दे रहा हो, तो उस व्यक्ति को खिन्न की जड़ को सफेद धागे में पिरोकर सोमवार के दिन इस्तेमाल करना चाहिए।
    मंगल ग्रह अगर पीड़ा दे रहा हो, तो अन्नतमूल की जड़ को लाल धागे में पिरोकर मंगलवार के दिन धारण करना चाहिए।
  3. अगर किसी व्यक्ति को बुध ग्रह कष्ट दे रहा हो, तो उसको विधार की जड़ को सफेद धागे में पिरो करके बुधवार के ही दिन प्रयोग में लाना चाहिए।
  4. गुरु ग्रह अगर ज्यादा परेशान करता हो, तो नारंगी अथवा केले की जड़ को पीले रंग के धागे में पिरोकर गुरुवार के दिन धारण करना चाहिए।
  5. ऐसे व्यक्ति जिनको शुक्र ग्रह परेशान कर रहा हो, उनको सरपोंखा की जड़ को सफेद धागे में पिरोकर शुक्रवार के ही दिन प्रयोग करना चाहिए।
  6. जिन व्यक्ति को शनि ग्रह कष्ट दे रहा हो, उन व्यक्तियों को बिच्छू की जड़ को काले धागे में पिरोकर शनिवार के दिन धारण करना चाहिए।
  7. राहु ग्रह जिन व्यक्तियों को ज्यादा ही परेशान करता हो, ऐसे व्यक्तियों को सफेद चंदन को नीले रंग के धागे में पिरोकर बुधवार के दिन ग्रहण करना चाहिए।
  8. जिन व्यक्तियों को केतु ग्रह कष्ट दे रहा हो, उन्हे असगन्ध की जड़ को आसमानी रंग के धागे में पिरोकर गुरुवार के दिन धारण करना चाहिए।

वास्तु शास्त्र की अन्य जानकारियां

  1. वास्तु शास्त्र क्या है?
  2. जीवन और वास्तुशास्त्र का संबंध
  3. हिन्दू पंचांग अथार्त हिन्दू कैलेंडर क्या है?
  4. वैदिक वास्तु शास्त्र
  5. वैदिक वास्तुकला के सिद्धान्त और उसकी जानकारियां

 

(This content has been written by Super Thirty India Group)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

English English हिन्दी हिन्दी
error: Content is protected !!